HINDI

December 27, 2018

मैं कविता कैसे लिखता हूं.

मैं कविता कैसे लिखता हूं? खिड़कियों पे एक चहेरा सजा हुआ होता हैं, उसका ! खिलती सुबह को वो देखते है, और में उनको खिलता देखता […]
May 5, 2018

याद उसे भी एक अधूरा अफ़्साना तो होगा

याद उसे भी एक अधूरा अफ़्साना तो होगा कल रस्ते में उस ने हम को पहचाना तो होगा डर हम को भी लगता है रस्ते के […]
May 1, 2018

इश्क़ हर जगह है!

इश्क़ हर जगह है! इश्क़ हर तरफ छाया हुआ है किसी आसमान की तरह. इश्क़ हर तरफ बिछा हुआ है किसी ज़मीन की तरह. इश्क़ हर […]